Poetry

Anniversary Wish (वर्षगाँठ )

सालगिरह है आज आप की, आप को दिन ये मुबारक वर्षगाँठ के इस मौके पर, Truck भर मिले शोहरत | थोड़े झगडे थोड़ी उलझन, लगी रहती हर उम्र में पति पत्नी का साथ रहे तो, खुशियाँ रहे जीवन में | एक दूजे का साथ यूँही, बनाये रखे सदा सालगिरह के इस मौके पर, यही है …

Anniversary Wish (वर्षगाँठ ) Read More »

पैसे का महत्व

ऐसा वैसा कुछ नहीं पैसा होव पास , पलभर मैं सब दुःख का होत्त सत्यानाश होता सत्यानाश मस्त की खूब छानिये , कोई कुछ भी कहे किसी की नहीं मानिये पैसे मैं गुण बोहत है सदा रखिये संग ,अच्छे अच्छो की करे तुरंत लेखनी बंद तुरंत लेखनी बंद शीघ्र ही आर्डर लेलो , ऑफिस के …

पैसे का महत्व Read More »

नर्मदा जयंती

नर्मदा की धारा अविरल बहती, करती सभी का उद्धार हैगंगा जमुना की तरह नर्मदा भी सबसे विशेष है |कहते सभी मैईया नर्मदा को, महाराज विराजे नजदीक इनके जोआओ हम करें नर्मदा माँ की आरती मनाए मैया की जयन्ती |जिनके दर्शन मात्र से जीवन धन्य हो जात हैऐसी माँ नर्मदा को हमरा बारम्बार प्रणाम है |उद्गम …

नर्मदा जयंती Read More »

Makar-Sankranti(मकर-सक्रांति)

वर्ष नया उत्साह नया, नया-नया सा त्यौहार है ठण्ड में दस्तक देता मकर सक्रांति का त्यौहार है| तिल के लड्डु गुड कि मिठास इस कि यह पहचान है हवा मे गोते खाती पतंग संक्रान्ति कि जान है| चिनी चावल धान का करते हम सब दान है पुण्य कमा कर इष्ट देव का करते हम ध्यान …

Makar-Sankranti(मकर-सक्रांति) Read More »

26 जनवरी (गणतंत्र दिवस)

हे पावन गणतंत्र दिवस, तेरे हित कितने वीरो ने, शेखर सुभाष गोखले तिलक| बापू से अमर शहीदों ने, हंस हंस कर बलिदान दिए| फांसी पर झूला झूले थे, हे पावन २६ जनवरी तेरा नाम न भूले थे | गणतंत्र बताओ सभी सुने,खुनी इतिहास तुम्हारा है | कितने धुंधले इतिहास गगन से, ज्योतित हुआ सितारा है …

26 जनवरी (गणतंत्र दिवस) Read More »

(Mother India)भारत माता

भारत माता है एक उपवन हम है इसके फूल , आपस में हम एक रहे करे न इसमें भूल | एक दूजे  को हम समझे दिल के मिटा दे शूल, भारत माता है एक उपवन और हम है इसके फूल | भाई चारा प्रेम सोहाद्र की पेश करे मिसाल , गलत कुरीतियों के सामने कर …

(Mother India)भारत माता Read More »

वृक्ष

सारा जल है सूख रहा , बंजर हो रही ये धरती | वृक्ष कटाई के कारन , मानव पर विपदा आ पड़ती | वृक्ष हमारे मित्र है , वृक्षों से है यह जीवन | वृक्षों के कारन वर्षा होती , जिससे होता अन्न उत्पन्न | नष्ट कर दिया वृक्षों को , फिर क्यों रोता है …

वृक्ष Read More »

सिर्फ तुम

जरिया तुम हो मेरी खुशी का , जरिया तुम हो इस चेहरे की हसी का|जब आ जाते हो सामने , दिन बन जाता है इस खुशनसीब का|बाते बहुत है करने को तुम से , पर शब्द रुक जाता है हर जबान का|यादों खयालो में आते भी हो तुम , पर सपना टूट जाता है हर …

सिर्फ तुम Read More »

12 महीने

साल के ये १२ महीने होते कुछ अजीब है , हर महीने की १ कहानी लगती बड़ी करीब है | जनवरी लेकर आती अपने साथ उत्साह बड़ा , फरवरी की हलकी ठंडक भर देती उन्माद बड़ा | मार्च महीना लाता अपने साथ रंग गुलाल सदा , महीना अप्रैल भी आता अलग अलग त्यौहार भरा | …

12 महीने Read More »

असुरक्षित जीवन

गुंडागर्दी लूटमार का अब तो है बाजार गरम , नहीं दया या धर्म शेष है छोड़ चुके सब लाज शर्म | छुरे तथा चाकूबाजी का जगह जगह होता अभियान, रक्तपात तो खेल हो गया मनुज बना पूरा शैतान | जितना बड़ा नगर है उसमे उतना छल प्रपंच होता , सबल यहाँ पर खूब दे रहा …

असुरक्षित जीवन Read More »

Translate »
Open chat